Header Ads

Breaking News : गोर्खे संतान बरूण भुजेल आब हामी बिच रहेन, शहिद बरूण भुजेललाई श्रद्धान्जली


कोलकाता : बंगाल सरकारको कालो नीति सङ्ग लड्दा-लड्दै फेरी हाम्रो अर्को गोर्खे छेरा कालेबुङ नगरपालिका अन्तर्गत १६ नम्बर वार्ड कमिस्नर बरूण भुजेलको पुलिस कस्टडीमा कोलकत्ताको पी जी अस्पतालमा हिजो राती निधन भयो।केन्द्र सरकारको अघि ममताले हाम्रो निर्दोष गोर्खा सन्तानको हत्या गरिरहेको छ तर केन्द्र सरकार अझै चुपचाप बसिरहेको छ।हाम्रो आँखा अघि शहिद बरूण भुजेललाई ममता सरकारले षडयन्त्र गरि जेलमा नै तड्पाई-तड्पाई हत्याक गरेको छ।उनको आत्माले चिर शान्ति पाहुन भनि श्रद्धान्जली अर्पण गर्दछौं।

(((((हिंदी अनुवाद))))))

वार्ड कमिश्नर बरुण भुजेल अब नहीं रहे, शहीद भुजेल को संपूर्ण गोरखा समुदाय द्वारा श्रद्धांजलि

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा गोरखालैंड की आवाज को दबाने का लगातार क्रूर कार्य किया जा रहा है। उसी क्रम में कालिंपोंग नगरपालिका के 16 नंबर वार्ड के कमिश्नर बरुण भुजेल की पुलिस कस्टडी में कोलकाता स्थित पीजी अस्पताल में कल देर रात दुखद निधन हो गया। विश्व भर के गोर्खाली समाज एवं गोरखालैंड प्रेमियों ने इसे क्रूर हत्या करार दिया है एवं इस हत्या के लिए बंगाल पुलिस समेत मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जिम्मेदार माना है भुजेल की निधन की खबर उनके छोटे भाई ने सोशल मीडिया के माध्यम से जनता को दी। गोरखालैंड संयुक्त संघर्ष समिति (GSSS) के वरिष्ठ उपाध्यक्ष चिरंजीव कुमार शर्मा ने भी इस बर्बर घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है एवं दिवंगत भुजेल के परिवार को इस दुख की घड़ी में  संवेदना प्रकट की गई है। पूर्व विधायक और JAP प्रमुख हर्क बहादुर छेत्री ने इसे पुलिस के बर्बरता कहा है और उन्होंने भी इसे हत्या करार दिया है। मुख्यमंत्री ममता की सरकार षड्यंत्र करके जेल के भीतर गोरखालैंड की सच्ची आवाज उठाने वाले लोगों को तड़पा तड़पा कर हत्या करने का घिनौना काम कर रही है। भुजेल की आत्मा को शांति मिले इसकी कामना करते हैं।


No comments

Powered by Blogger.