Header Ads

डुवार्स के मोर्चा नेता रोहित थापा गिरफ्तार, अबतक 30 से ज्यादा मोर्चा समर्थकों को किया अरेस्ट



वीरगोरखा न्यूज पोर्टल
कालिम्पोंग : गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के प्रमुख विमल गुरुंग को सिक्किम में पकड़ने के अपने असफल प्रयास के बाद बंगाल पुलिस ने 2 दिन बाद अब मोर्चा के केंद्रीय नेता और उनके समर्थकों को पकड़ने का सघन अभियान चलाया है। इस अभियान में बंगाल पुलिस ने अब तक 30 से अधिक मोर्चा नेताओं को अरेस्ट किया है। कल ही मोर्चा ने आधिकारिक रूप से अपने बागी नेता विनय तामंग एवं अनित थापा को पार्टी से निष्कासित किया था, वहीं आज विनय तामांग पुलिस की भारी सुरक्षा में दार्जिलिंग चौक बाजार में देखे गए। इसके बाद उन्होंने प्रेस गिल्ड में पत्रकार सम्मेलन भी किया। 29 अगस्त के दिन नबन्ना में बंगाल सरकार के साथ वार्ता में मौजूद डुवार्स के मोर्चा नेता रोहित थापा को आज जलपाईगुड़ी से गिरफ्तार किया गया है। गौरतलब है कि रोहित थापा वही मोर्चा नेता है जिन्होंने 29 अगस्त के दिन हुए वार्ता के पश्चात विनय तामंग और अनित थापा की संपूर्ण जानकारी मोर्चा प्रमुख विमल गुरुंग को उपलब्ध कराई थी। विमल गुरुंग ने कोलकाता से अविनाश एवं रोहित थापा के साथ हुए अपने फोन कॉल रिकॉर्ड को सार्वजनिक किया था। जिसके बाद विनय तामंग एवं अनित थापा द्वारा नई पार्टी खोलने मोर्चा प्रमुख के विरुद्ध जाने एवं बंगाल सरकार के साथ सांठगांठ करने के संबंध में बातचीत थी। विनय ने 12 सितंबर को प्रस्तावित बैठक में शामिल होने के लिए 1 सितंबर से 12 सितंबर तक बंद को स्थगित करने की घोषणा भी की थी लेकिन विमल गुरुंग द्वारा बंद जारी रहने की दूसरी घोषणा के साथ ही पहाड़ की राजनीति ने भी एक नया रंग ले लिया था। इस घटना के बाद सिक्किम में दार्जिलिंग, कालिम्पोंग और अन्य स्थान में करीब 16 से ज्यादा मोर्चा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। कार्यकर्ता अब बैचैन होकर भूमिगत हो रहे है।
Powered by Blogger.