Header Ads

क्रामाकपा की GJM और JAP को खरी-खोटी, गोरखालैंड राज्य के अलावा नहीं करेगा कोई समझौता



 कालिम्पोंग : क्रांतिकारी मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (क्रामाकपा) के केन्द्रीय समिति के सदस्य अरूण घटानी ने नगर पालिका चुनाव पर अपनी स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) ने अब भाजपा की शरण ले ली है। उन्होंने आगे कहा कि गोरामुमो ने शुरुआत में जीटीए के गठन के लिए मुख्यमंत्री ममता का सहारा लिया और जन आंदोलन पार्टी ने उससे एक कदम आगे बढ़कर तृणमूल कांग्रेस को लाकर यहां पर गलत परिपाटी को बढ़ावा दिया। पहाड़ के ये तीनों पार्टियां कभी जनता के सपने को साकार नहीं करेगी। इसलिए क्रामाकपा गोरखालैंड के अलावा किसी अन्य पर समझौता नहीं करेगी। केन्द्र व राज्य सरकार के आशीर्वाद पर पल रहे इन राजनीतिक से जनता कोई उम्मीद न रखें। शनिवार को। इससे पहले स्थानीय डांडा स्थित त्रिकोण पार्क से पार्टी की ओर से संकल्प रैली निकाली गई। रैली समाप्त होने के बाद सभा को संबोधित करते हुए अरूण घटानी ने गोजमुमो, जाप व तृणमूल कांग्रेस की जमकर आलोचना की।

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि क्रामाकपा किसी भी व्यवस्था में समझौता नहीं करेगा। आज तक आन्दोलन करने वाले पार्टियों के द्वारा लिए गए व्यवस्था के कारण अलग राज्य नहीं मिल पाया है। गोरामुमो ने दागोपाप तो गोजमुमो ने जीटीए में सम्झौता कर जनता को धोखा देने का काम किया है। जन आन्दोलन पार्टी को अपने स्पष्ट चरित्र जनता के सामने आ गई है। क्रामाकपा द्वारा अलग राज्य गोर्खालैंड के अलावा किसी भी व्यवस्था में समझौता नहीं करने की बात बताते हुए उन्होंने कहा कि 'गोर्खालैंड के विकल्प अगर कुछ है तो वो केवल गोरखालैंड ही है।

वही चुनावी बाजार में झोलाछाप नेता पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे में जनता इस प्रकार के नेताओं को समझे। 'क्रामाकपा हमेशा गोरखालैंड की बात करता है एवं क्रामाकपा जीने तक गोर्खालैंड के लिए लड़ता रहेगा। हम रंग बदलने वाले पार्टी नहीं है। इससे पहले क्रांतिकारी मार्क्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी (क्रामाकपा) कालिम्पोंग आंचलिक कमेटी की ओर से पथसभा के साथ संकल्प रैली निकाली गई। स्थानीय नौ माइल स्थित नोवेल्टी परिसर से संपन्न हुए उक्त रैली ने पूरे शहर की परिक्रमा करते हुए त्रिकोण पार्क में जाकर खत्म हुई। इस दिन पथसभा में संजिला घीसिंग, सुधन प्रधान व रविन राई उपस्थित रहे।
Powered by Blogger.