Header Ads

उत्तराखंड गोरखा एकता मंच का कांग्रेस को राज्य के सभी 70 विधानसभा सीटों पर समर्थन देने का एलान


दीपक राई
वीर गोरखा न्यूज नेटवर्क
देहरादून
: विधानसभा चुनावों से इन वक्त पहले गठित सूबे की उत्तराखंड गोरखा एकता मंच ने एक बार फिर आज पत्रकारवार्ता करते हुए राजधानी की मसूरी विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी गोदावरी थापली को अपना समर्थन देने की बात को दोहराया है। इससे पूर्व भी दो बार प्रेस विज्ञप्ति जारी करके उत्तराखंड गोरखा एकता मंच ने राष्ट्रीय पार्टियों को गोर्खाली समाज के व्यक्ति को टिकट देने के बाद पूर्ण समर्थन देने की बातें कहीं थी। मंच ने कांग्रेस को सभी 70 विधानसभा सीटों पर समर्थन देने का एलान किया है । मसूरी से राष्ट्रीय कांग्रेस की टिकट गोदावरी थापली को मिला, जिसके बाद मंच पुरजोर तरीके से उनके सपोर्ट में ताल ठोंकता हुआ नजर आया है। मंच के अध्यक्ष ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) पूरन सिंह गुरुंग ने बताया कि उनकी संस्था ने साफ़ और तार्किक तरीके से यह विचार एवं मांग उत्तराखंड के दोनों राजनितिक पार्टियो के समक्ष राखी थी कि जो भी पार्टी गोरखा बाहुल्य क्षेत्र से गोरखा समुदाय का सही प्रतिनिधित्व करेगी उसे ही अपने  मैदान में उतारेगा। उस पार्टी के लिए गोरखा समुदाय जी जान लगा देगा। 

गुरुंग ने आगे कहा कि उनकी पार्टी ने गोरखा समुदाय को टिकट दिया है जिसके लिए वह तहेदिल से मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा करते है। उत्तराखंड गोरखा एकता मंच समस्त सूबे के मतदाताओं के साथ मसूरी विधानसभा के मतदाताओं की तरफ से कांग्रेस पार्टी के सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया। उत्तराखंड गोरखा एकता मंच ने उत्तराखंड राज्य में निवासरत गोरखा समुदाय के व्यक्ति से निवेदन किया है कि वे अधिक से अधिक संख्या में जाकर मतदान अवश्य करें।

पत्रकारवार्ता से मंच के संरक्षक दोनों गोरखा जनरल रहे गायब
उत्तराखंड गोरखा एकता मंच नाम के संस्था में बतौर संरक्षक शामिल लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) शक्ति गुरुंग और राम सिंह प्रधान इस बार पत्रकारवार्ता में नजर नहीं आए। सूत्रों के अनुसार गोदावरी को समर्थन देने के मंच के एलान के बाद जनरल प्रधान इस संस्था से किनारा कर चुके है। गौरतलब है कि प्रधान भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो चुके है और इसलिए उनका अपनी विपक्षी पार्टी के प्रत्याशी को समर्थन देना संभव नहीं था। वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री हरीश रावत के करीबी समझे जाने वाले शक्ति गुरुंग भी कांग्रेस शासन में उत्तराखंड राज्य गोरखा कल्याण परिषद् में अध्यक्ष पद संभाल चुके है। जिसमें गोदावरी थापली भी उपाध्यक्ष बनाई गयी थी।

गोदावरी थापली गुट रहा मौजूद
इस बार के चुनावों में खुलकर गोदावरी का सपोर्ट कर रहे गोरखा समुदाय की महिलाएं एवं सैन्य अफसरों की लॉबी आज हुई पत्रकार वार्ता में बड़े उत्साह में नजर आई। इस अवसर पर कर्नल (रिटायर्ड) दीवान सिंह खडका, एलबी छेत्री, डीबी थापा के साथ कमला थापा, मंजू कार्की, पूजा सुब्बा, उमा इंदिरा उपाध्याय, सुनीता छेत्री, सुषमा प्रधान और पीएस शेरपा मौजूद रहे।  


Powered by Blogger.