Header Ads

मसूरी : सारिका ने फिर गोदावरी पर साधा निशाना, कहा - गोरखा समुदाय को कर रही है भ्रमित


वीर गोरखा न्यूज नेटवर्क
देहरादून/मसूरी :
सारिका प्रधान इस बार मसूरी विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में चुनाव लड़ रही हैं । उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि  किसी भी बड़े राजनैतिक दल ने हमें (गोरखाओं) को एक भी टिकट नही दिया जबकि समस्त उत्तराखण्ड में तकरीबन 12 से 14 लाख तक गोर्खाली समुदाय यहां निवास कर रहें है, जो कि जनसख्ंया के हिसाब से तीसरी बड़ी जाति है। बड़े राजनैतिक दलों ने गोर्खा जाति को  हमेशा दर किनार किया है। यहां पर उन्ही को टिकट दिया जाता है जो बाहुबल व धनबल के धनी है। उन्होंने आगे कहा कि जैसा की आपको पता है कि कांग्रेस पार्टी ने एक टिकट दिया है जो कि गोर्खाली समुदाय को भ्रमित कर रहा है। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि  इस बार मसूरी विधानसभा से गोदावरी थापा थापली ने अपना नामांकन गोदावरी थापली के नाम से नामाकंन किया है जो कि गोर्खाली समुदाय को भ्रमित करके रखा है।

सारिका ने कहा कि मीडिया के सभी पत्रकार बन्धुओं के माध्यम से मसूरी विधानसभा के क्षेत्र वासियों को आगाह करना चाहती हूँ कि मसूरी विधानसभा की समस्त गोर्खाली समुदाय इस बात को अपने जहन से निकाल दें की कांग्रेस पार्टी ने गोर्खाली समुदाय को टिकट दिया है। टिकट गोदावरी थापली को दिया है न कि गोदावरी थापा को, समस्त गोर्खाली समुदाय इससे भ्रमित हो रहा हैं। इसी कारण मुझे मसूरी विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में चुनाव लड़ना पड़ रहा है। जैसा की पूरा प्रदेश जानता है इससे पहले आई भाजपा सरकार तो पूर्ण रुप से भ्रष्टाचार से लिप्त थी जिसने प्रदेश को 10 साल पिछे धकेल दिया और वर्तमान केन्द्र की भाजपा सरकार ने नोटबंदी करके पूरे देश के गरीबों को और गरीब बना दिया।

निर्दलीय प्रत्याशी सारिका प्रधान का घोषणा पत्र जारी 
विधानसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी सारिका प्रधान ने अपना घोषणा -पत्र जारी कर दिया है। सारिका प्रधान ने कहा कि गत 15 वर्षों वह राजनैतिक क्षेत्र में कार्यरत रह प्रदेश तथा गोरखा समाज के हितों की रक्षा करती आ रही हैं। उन्होंने आगे कहा कि तत्कालीन एनडी तिवारी की कांग्रेस सरकार में राज्यमंत्री के रुप में मैंने देहरादून के विभिन्न क्षेत्रों में सड़क, बिजली तथा पेयजल सम्ंबधी सराहनीय कार्य करवाए और मेरे द्वारा कराये गये सामाजिक कार्य व समाज सेवा के बारे में मसूरी विधानसभा क्षेत्र ही नही बल्कि प्रदेश के समस्त नागरिक भली भांति जानते है। इन्ही बातों का ध्यान में रखकर मैं आपके सामने निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में इस बार चुनाव मैदान में हूँ । सारिका प्रधान को चुनाव चिन्ह के रूप में कप-प्लेट का निशान मिला हैं।

सुश्री सारिका प्रधान के घोषणा-पत्र के प्रमुख बिंदु

1)  अपने मसूरी विधनसभा क्षेत्र को खुशहाल, स्वावलम्बी व शक्तिशाली बनाने के भरसत प्रयत्न करुंगी।

2)  प्रदेश की युवा महिलाओं के स्वाबालम्भन शिक्षा, समाजिक स्तर तथा व्यवसाहिक योग्यता को उच्च कोटी का बनाने के लिए प्रशासन से समन्वय बनाकर उचित योजनाए ।

3)  युवाओं के लिए व्यवसाहिक प्रशिक्षण केन्द्र खुलवाकर उनको विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित करवा कर शासन प्राशासन में अधिकाधिक नौकरियाँ दिलवाने के निरंतर प्रयत्न।

4)  निर्धन महिलाओं, युवाओं और वृद्धाओं एंव विकंलागों को शासन से आर्थिक सहायता।

5)  होनहार विद्यार्थीयों को शासन प्राशासन से छात्रवृती दिलवाकर उनकी सहायता तथा उनके उच्च शिक्षा सस्थानों में प्रविष्टी करवाकर उनके भविष्य को सफल करवाने में सहायक रहूँगी।

6)  मसूरी विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड, गली, मोहल्ला की साफ-सफाई, बिजली, पेयजल, सार्वजनिक पार्किग, सड़क और सीवर लाईन आदि सुविधाओं की समस्याओं के समाधान हेतु हमेशा सर्तक रहूँगी।

7)  मसूरी विधानसभा क्षेत्र के किसी भी नागरिक को अपनी समस्याओं के निराकरण को लेकर मुलाकात करने में इंतजार नही करना पड़ेगा।

Powered by Blogger.