Header Ads

नोटबंदी-सांसदों की गिरफ्तारी के खिलाफ TMC का दार्जिलिंग पहाड़ में प्रदर्शन जारी


दार्जिलिंग/कर्सियांग : केन्द्र सरकार के नोटबंदी व रोज वैली चिटफंड घोटाले में तृणमूल कांग्रेस सांसद सुदीप बंदोपाध्याय और तापस पॉल की गिरफ्तारी के विरोध में तृणमूल कार्यकर्ताओं का मोदी सरकार के खिलाफ दूसरे दिन भी पहाड़ में विरोधी प्रदर्शन जारी रहा। इस दिन पहाड़ के विभिन्न जगहों विरोध प्रदर्शन व रैली का सिलसिला जारी रहा। केन्द्र सरकार के खिलाफ निकाली गई इस जुलूस में सैकड़ों की संख्या में तृकां समर्थकों ने भाग लिया। दार्जिलिंग में हिल्स तृकां के दार्जिलिंग महकमा समिति की ओर से दूसरे दिन जुलूस प्रदर्शन के साथ जनसभा का आयोजन किया गया। मंगलवार को दार्जिलिंग महकमा समिति ने स्ट्रीट कॉर्नर चौक बाजार में प्रदर्शन के साथ विरोध सभा का आयोजन किया गया।

इस दिन सभा में तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने 'मोदी हटाओ देश बचाओ' के नारे के साथ विकास की प्रतिक मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की भी जयकार की। आयोजित जनसभा में विभिन्न चाय बागानों से आए 52 चाय श्रमिकों ने तृकां का दामन थामा। इस दिन सभा में दिनेश गुरूंग, रमेश गड्डीया, एस के राई, जेबी तमांग, पारू गिरि, शारदा राई सुब्बा, एन बी खबास ने मोदी सरकार की जमकर आलोचना की। सभा में वक्ताओं ने कहा कि गरीब विरोधी भाजपा सरकार ने नोटबंदी किया है। प्रतिशोध की भावना के बीच जब तृकां के सांसदों ने नोटबंदी विरोध किया, सीबीआई लगातार TMC के सांसद सुदीप बनर्जी को फंसा दिया गया है। चाय श्रमिकों पर जो नोटबंदी की मार पड़ रही है, यह किसी को दिखाई नहीं दे रहा है। बैंक से पैसा निकालना श्रमिकों के लिए भारी पड़ रहा है।

कार्सियांग में  नोटबंदी-गिरफ्तारी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी
वही दूसरी ओर कार्सियांग में तृणमूल कांग्रेस की ओर से नोटबंदी व TMC सांसद की गिरफ्तारी के खिलाफ दूसरे दिन भी विरोध प्रदर्शन जारी रहा। इसके तहत तृणमूल समर्थकों ने कर्सियाग के टूरिस्ट लॉज से एक रैली निकाली। यह रैली सड़क के विभिन सड़कों की परिक्रमा करते हुए कर्सियाग मोटर स्टैंड में पहुंचकर सभा में तब्दील हो गई। रैली में उपस्थित लोगों ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उनके सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की। सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि मोदी सरकार ने नोटबंदी की घोषणा कर आम नागरिकों को परेशान करने का कार्य किया है। आज नोटबंदी के कितने दिन बीतने के बावजूद भी लोगों की हालात नहीं सुधरा है। साधारण जनता के समस्याओं का समाधान नहीं हो सका है। रोजाना गरीब, असहाय व साधारण लोगों को बैंकों व एटीएम का चक्कर लगाना पड़ रहा है।

गुरूंग TMC का जितना विरोध करेंगे, उतना पार्टी मजबूत होगी 
TMC के नेताओं ने कहा कि जब तक हमें न्याय नहीं मिलेगा, हमारा विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा। जीटीए प्रमुख विमल गुरूंग का जिक्र करते हुए वक्ताओं ने कहा कि विमल गुरूंग तृणमूल पार्टी का जितना विरोध करेंगे, उतना ही यह पार्टी इस पहाड़ी क्षेत्र में सुदृढ़ होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि दार्जिलिंग पहाड़ क्षेत्र के तीनों विधायक विकास के नाम में कुछ नहीं कर रहे हैं। ये लोग कोलकाता में जाकर विधायक को मिलने वाली भत्ता को लेने के फिराक में मात्र रहते हैं। जीटीए छेत्र में विकास नहीं होने के कारण ही सूबे के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहाड़ी छेत्र में विविध जातिगत विकास बोर्ड गठन करने का कार्य कर रही है।

वक्ताओं ने कहा कि आज देश के तकरीबन 80 प्रतिशत ग्रामीण इलाके में बैंक नहीं है। ऐसे जगहों में मोदी का कैशलेस बनाने का सपना क्या साकार होगा? उन्होंने कहा कि कालेधन पर मोदी सरकार द्वारा किये गये सर्जिकल स्ट्राइक बेहोश किये वगैरह मरीज का ऑपरेशन करने के बराबर है। इसलिए लोग इसका विरोध कर रहे हैं। इस दिन सभा में राजेन मुखिया, चुन्नु बहादुर सिंह, अशोक सिन्चौरी, सविता कार्की सहित विभिन्न बोर्ड के प्रतिनिधि उपस्थित थे। 

Powered by Blogger.