Header Ads

वाराणसी के रास्ते नेपाली युवतियों को खाड़ी देशों में भेज रहा है अंतरराष्ट्रीय गिरोह


नई दिल्ली। नेपाली युवतियों की तस्करी करने वाले अंतरराष्ट्रीय गिरोह ने दिल्ली एयरपोर्ट पर सख्ती के बाद अब रास्ता बदल दिया है। गिरोह अब वाराणसी के रास्ते युवतियों को खाड़ी देशों में भेज रहा है। हर महीने करीब तीन सौ नेपाली युवतियां पहले वाराणसी आती हैं और यहां से शारजाह जाती हैं। इन युवतियों के पास रिटर्न टिकट भी होता है। ये जाती तो वाराणसी एयरपोर्ट (बाबतपुर) से हैं लेकिन रिटर्न टिकट दिल्ली का होता है। चौंकाने वाली बात है कि शारजाह जाने वाली ज्यादा युवतियों के टिकट वहां पहुंच कर कैंसिल करा दिए जाते हैं। केंद्रीय खुफिया एजेंसियां मानव तस्करी की आशंका के मद्देनजर मामले की पड़ताल कर रही हैं। इसमें विमानन कंपनियों के अफसरों के भी शामिल होने की आशंका है। 

भूकंप की त्रासदी का दंश झेल चुका नेपाल अब तक संभल नहीं पाया है। वहां के तमाम लोग रोजी-रोजगार के लिए दूसरे देशों में जाने को मजबूर हैं। उनकी मजबूरियों का   भी उठाया जाता है। इसी साल नवंबर महीने में सुरक्षा एजेंसियों ने खुलासा किया था कि नेपाली युवतियों को दिल्ली के रास्ते खाड़ी देशों में भेजा जा रहा है। कुछ तस्करों को गिरफ्तार भी किया गया। इसके बाद से तस्करों ने रास्ता बदल दिया और वाराणसी को चुना। एजेंसियों को बाबतपुर एयरपोर्ट से मिले इनपुट के बाद पता चला है कि नेपाल की युवतियां बड़ी संख्या में वाराणसी से शारजाह भेजी जा रही हैं। एयरपोर्ट के सूत्रों की मानें तो हर महीने करीब तीन सौ से ज्यादा नेपाली युवतियां यहां से शारजाह जा रही हैं। रोजाना कभी यह पांच तो कभी आठ, दस के ग्रुप में जाती हैं। इनके साथ कोई एक युवक भी होता है। 

सभी युवतियों के पास पासपोर्ट, टूरिस्ट वीजा समेत कागजात के अलावा एक छोटा बैग होता है, जिसमें कुछ कपड़े होते हैं।  एजेंसियों की शुरुआती पड़ताल में यह भी पता चला है कि इन नेपाली युवतियों के पास दस से पंद्रह दिन के बाद का रिटर्न टिकट भी होता है लेकिन अधिकतर युवतियां लौटती नहीं हैं। वह शारजाह पहुंचने के बाद अन्य खाड़ी देशों में भी जाती हैं। युवतियों की यात्रा के सभी कागजात दुरुस्त होते हैं। इसलिए उनसे अब तक कोई पूछताछ नहीं हुई है। पता चला है कि इसके पीछे एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है, जिसमें कुछ रसूखदार भी शामिल हैं। विमानन कंपनियों के भी कुछ लोगों के शामिल होने की आशंका है। इस मामले में बड़ा खुलासा हो सकता है।
Powered by Blogger.