Header Ads

उत्तराखंड में लोकल कांग्रेस और नेशनल BJP में होगी असली फाइट

 
देहरादून  : उत्तराखंड में मुख्य मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच है। कांग्रेस जहां सिटिंग सीएम हरीश रावत के दम पर चुनाव लड़ रही है, वहीं बीजेपी ने अब तक कोई चेहरा सामने नहीं किया है। बीजेपी यहां सामूहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात कह रही है। हालांकि, हकीकत में बीजेपी अपने लिए पीएम नरेंद्र मोदी के नाम पर ही वोट मांग रही है। इस तरह उत्तराखंड में हरीश रावत के नेतृत्व में लोकल कांग्रेस और मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में नेशनल बीजेपी की जंग दिख रही है। बीजेपी को उत्तराखंड में किसी एक चेहरे पर दांव लगाने पर विद्रोह का डर सता रहा है। बीजेपी के पास यहां 4 पूर्व सीएम हैं। साथ ही और भी ऐसे नेता हैं जो खुद को ही सीएम पद का दावेदार मानते हैं। यहां बीजेपी 8 चेहरों के साथ पोस्टर बैनर लगा रही है और कह रही है कि यह सामूहिक नेतृत्व है। इसमें पूर्व सीएम भगत सिंह कोश्यारी, रमेश पोखरियाल निशंक, बीसी खंडूरी और विजय बहुगुणा के अलावा सांसद मालाराज्य लक्ष्मी शाह, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, सतपाल महाराज और केंद्रीय राज्य मंत्री अजय टम्टा शामिल हैं। लेकिन दिलचस्प यह है कि बीजेपी चुनावी कैंपेन में पीएम मोदी के पक्ष में वोट मांग रही है।

नफा और नुकसान
सीएम कैंडिडेट का ऐलान न करने और मोदी के नाम पर चुनाव लड़ने से बीजेपी को जहां कुछ फायदा नजर आ रहा है, वहीं इसके नुकसान भी हैं। बीजेपी के एक सीनियर नेता ने माना है कि बीजेपी में नेता इतने ज्यादा हो गए हैं कि उनकी महत्वाकांक्षाएं पार्टी पर भारी पड़ सकती हैं। सीएम के दावेदारों की आपसी टकराहट से पार्टी की दिक्कतें बढ़ सकती हैं, इसलिए किसी एक के नाम पर चुनाव लड़ना पार्टी के लिए जोखिम भरा होगा। मोदी के नाम पर चुनाव लड़ने से बीजेपी को उम्मीद है कि लोगों का सपॉर्ट मिलेगा। हालांकि ये कांग्रेस को मौका देने जैसा भी है। कांग्रेस बीजेपी पर यह कह कर अटैक कर रही है कि उनका सीएम कैंडिडेट कौन है और क्या मोदी आकर सीएम बनेंगे। किसी के नाम का ऐलान न करना बीजेपी के आंतरिक झगड़े की झलक भी दे रहा है।

अटल का काम अधूरा, मोदी करेंगे पूरा
बीजेपी इस बात पर जोर दे रही है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने उत्तराखंड के लिए क्या-क्या काम किए। बीजेपी ने एक फिल्म बनाई है, जिसे विडियो वैन के जरिये हर विधानसभा में दिखाने की तैयारी है। इसमें बताया गया है कि मोदी सरकार ने 17,000 करोड़ रुपये रेलवे के लिए और 12,000 करोड़ रुपये आॅल वेदर रोड के लिए दिए। बीजेपी एक और कैंपेन लॉन्च करने वाली है, जिसे इस स्लोगन के साथ आगे बढ़ा जाएगा ‘अटल जी का काम अधूरा, मोदी जी करेंगे पूरा।’ बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और उत्तराखंड प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि इस कैंपेन के जरिये हम लोगों को बताएंगे कि अटल जी ने पहाड़ी राज्य बनाया और उनका सपना यहां की संस्कृति और धरोहर को संजोना और संवारना था लेकिन कांग्रेस ने इस राज्य के लिए कुछ नहीं किया। अब मोदी जी के नेतृत्व में अटली जी के काम को पूरा किया जाएगा। गौरतलब है कि दोनों पार्टियां सोशल मीडिया के जरिये भी वोटर्स को लुभाने की कोशिश कर रही हैं। सोशल मीडिया में भी कांग्रेस हरीश रावत और मोदी  ही भाजपा के चेहरे हैं। 

Powered by Blogger.