Header Ads

गोरखा पत्रकार के इलाज के लिए इजरायल की इंडियन गोरखाज कंपनी ने की आर्थिक मदद


कालिम्पोंग : इजरायल में रहकर दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र में काम करने वाले लोगों की संस्था इंडियन गोरखाज कंपनी ने कालिम्पोंग के पत्रकार मनोज राई के उपचार हेतु आर्थिक मदद प्रदान की है। महाकाल डाड़ा के बड़ा भालूखोप के निवासी मनोज राई कालिम्पोंग प्रेस क्लब द्वारा संचालित दैनंदिनी समाचार के तकनीकी संपादक भी हैं। राई को इसी वर्ष 22 मई को ब्रेन स्ट्रोक आया था जिसके बाद से उनका इलाज सिलीगुड़ी के नर्सिग होम में चल रहा है। इलाज से ठीक हो रहे मनोज को 18 अक्टूबर को दोबारा स्ट्रोक आया। हालत में सुधार ना होने पर डाक्टरों ने उन्हे वेल्लोर जाने का सुझाव दिया। घर में अकेले कमाने वाले सदस्य मनोज करीब 8 माह से बीमार होने के चलते वेल्लोर में इलाज करवा रहे हैं। मनोज के इलाज में सहयोग के लिए कालिम्पोंग के पत्रकार व कुछ वरिष्ठ लोग आगे आए थे। 

इसी क्रम में रिपोर्टर्स कार्यालय कालिम्पोंग के संयोजक मुकेश शर्मा तथा सदस्य खड़गा क्षेत्री द्वारा इजरायल में संपर्क करने पर वर्ष 2011 से सक्रिय इंडियन गोरखा कंपनी के संयोजक नरन लंगेली से संपर्क साध कर मदद की अपील की। अपील पर गोरखा कंपनी की सभा 16 तारीख को संपन्न हुई जिसमें लिए निर्णय के अनुसार सहयोग के लिए स्वीकृत राशि मिरिक में नान लुंगेली के पिता के हर्क थापा के बैंक में भेज दी गई। सभा में आईजीसी की कार्यकारी सदस्य विमला चामलिंग राई , संतोष प्रधान , सविता लोहार ,मंदिरा जिम्बा, देविका रोका, रीतिका खड़गा मुखिया, विजेता सुब्बा ,रंजना शर्मा, भावना सुब्बा एवं भावना शर्मा उपस्थित थे। सोमवार को इलाज़ के लिए वेल्लोर रवाना हुए मनोज राई के बैंक खाते में मिरिक से 35 हजार रूपये हस्तातरित कर दिए गए। 

मनोज राई की ओर से तथा सभी पत्रकारों की ओर से आईजीसी के सदस्यों तथा मिरिक के पत्रकार बंधुओं के प्रति आभार प्रकट किया गया है। आईजीसी के संयोजक नरन लुंगेली ने कहा कि ने कहा की इजरायल में कार्य करने वाली संस्था सदा से ही गोरखा जाति की समस्या पर एकजुट होकर सहायता करती है। दार्जिलिंग में प्राकृतिक आपदा का समय हो या किसी का उपचार कंपनी हमेशा मदद के लिए आगे रहती है।

Powered by Blogger.