Header Ads

दार्जिलिंग : पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय मोटरसाइकिल चोर गिरोह का किया पर्दाफाश


दार्जिलिंग : जिले में बढ़ रही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मोटरसाइकिल चोरी की घटना का दार्जिलिंग जिला पुलिस ने पर्दाफाश किया है। रविवार रात को आठ बजे के करीब टी एन रोड आलुबारी के नजदीक सदर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें सिक्किम के रम्फू निवासी मेडल मांझी (30) एवं जलपाईगुड़ी के लाटागुड़ी के निवासी पारम विश्वास को गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों को इस दिन अदालत में पेश किया गया। जहां इन दोनों को एक दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया। इस बारे में जिला पुलिस अधीक्षक अमित पी जवालगी ने कहा कि इन आरोपियों ने करीब 350 मोटरसाइकिल चोरी कर उसे बेचे जाने की बात को स्वीकार किया है। 

इन मोटरसाइकिलों को सिक्किम, दार्जिलिंग, कर्सियांग, माटीगाड़ी, सिलीगुड़ी के विभिन्न इलाकों से चोरी की गई है। इन मोटरसाइकिल को भारत-बांग्लादेश सीमावर्ती क्षेत्र के चेंगड़ाबांधा से बांग्लादेश भेजा गया है। इन मोटरसाइकिल को चोरी करने की बात को इनलोगों ने कबूल कर लिया है। उन्होंने कहा कि अदालत से इन आरोपियों के लिए पांच दिनों के लिए पुलिस रिमांड मांगा गया था लेकिन ने एक दिन की रिमांड मंजूर की। इन चोरों के पास से 53 ग्राम हेरोइन भी मिला है। पिछले दो दिनों वर्षो से मोटरसाइकिल चोरी का कारोबार चल रहा था। इडेन अस्पताल से मिले सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इन चोरों तक पहुंचने में मदद मिली है और फिर इस बड़े गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है।

उन्होंने कहा कि दार्जिलिंग पुलिस स्टेशन से 25, कालिम्पोंग से 35, कर्सियांग से 5, सिलीगुड़ी से 15, भक्तिनगर थाना से 65, एनजेपी से 15, माटीगाड़ा से 75 एवं सिक्किम राज्य से 150 मोटरसाइकिल की चोरी की घटना घट चुकी है। चोर किए गए मोटरसाइकिल का बिक्री करने का चालान रहता है। चोरी हुए मोटरसाइकिल को बिना कागजात के 25 हजार रुपये में बिक्री होती थी। मिडेल मांझी के खिलाफ सात मामला सिक्किम थाने में दर्ज है। ये सभी मास्टर की के जरिए मोटरसाइकिल चोरी एवं ताले तोड़ता था। हाल की इडेन अस्पताल में नवंबर महीने से लेकर दो दिसंबर के बीच मोटरसाइकिल चोरी हुआ था।

- जागरण 
Powered by Blogger.