Header Ads

कालिम्पोंग की नवनिर्वाचित विधायक सरिता राई को नेपाली भाषा में शपथ लेने पर गर्व


कालिम्पोंग : विधानसभा की सदस्यता अपनी मातृभाषा नेपाली में ग्रहण की। नेपाली भाषा में विधायकी की शपथ ग्रहण करने पर मुझे गर्व की अनुभूति हुई। उक्त उद्गार क्षेत्रीय विधायक सरिता राई ने व्यक्त किए। वह शपथ ग्रहण कर पहली दफे कालिम्पोंग पहुंचने पर बुधवार को गोजमुमो के कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रही थीं। उन्होंने कालिम्पोंग के लिए नासूर बन चुकी पेयजल की किल्लत को जटिल समस्या बताया व कहा कि विधायक के तौर पेयजल की किल्लत से निजात दिलाने को जो भी बन पड़ेगा, करूंगी। विधायक ने जिला गठन की प्रक्रिया आगे बढ़ाने के मुख्यमंत्री के निर्देश का स्वागत करते हुए उनके प्रति आभार व्यक्त किया व कहा कि उनसे जिले के मुद्दे पर चर्चा करने के साथ ही प्रक्रिया शुरू कराने की अपील की थी। 

चुनाव प्रचार के दौरान डॉ. हर्क बहादुर छेत्री के चुनाव हारने पर कालिम्पोंग के जिला न बन पाने का प्रचार करने वाले जाप समर्थक आज फिर जिले का श्रेय लेने की होड़ में जुट गए हैं। उन्होंने जनता की आकांक्षा को दृष्टिगत रखते हुए कार्य करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की व कहा कि क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं के निराकरण के साथ ही विकास को भी अपने स्तर से पुरजोर प्रयास करूंगी। सरिता ने कहा कि गोरखालैंड राज्य के लिए हम केंद्र सरकार के साथ मिलकर कार्य करेंगे। जब भी आवश्यकता होगी, विधानसभा में भी राज्य का मुद्दा दमदारी से उठाने को तैयार हूं। इससे पूर्व विधानसभा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद पहली दफे कालिम्पोंग पहुंचने पर मोर्चा समर्थकों ने सरिता राई का जोरदार स्वागत किया। शहर के थाना डाडा से मोर्चा कार्यालय तक जोश से लबरेज समर्थक नारेबाजी एवं आतिशबाजी करते हुए जुलूस की शक्ल में पहुंचे।


Powered by Blogger.