Header Ads

उत्तराखंड : राष्ट्रीय गोरखा मोर्चा पार्टी का कांग्रेस में विलय, कांग्रेस से 3 गोर्खाली प्रत्याशी लड़ेंगे विधानसभा चुनाव


देहरादून : अखिल भारतीय राष्ट्रीय गोरखा मोर्चा पार्टी अगले माह की पहली तारीख यानि एक मई को कांग्रेस का हिस्सा बन जाएगी। एक मई को पार्टी का कांग्रेस में विधिवत विलय हो जाएगा। साल 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से तीन गोर्खाली प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे। पार्टी प्रदेश के कोने-कोने में घूमकर भाजपा की पोल खोलो और पूर्व सीएम हरीश रावत के गोर्खाली समाज के महानायक होने के बाबत प्रचार अभियान चलाएगी। उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकार वार्ता में पार्टी के अध्यक्ष कैप्टन (अप्रा) जेबी कार्की ने कहा कि हरीश रावत ने गोर्खाली समाज के लिए बहुत काम किए। गोरखाली समाज उन्हें महानायक का दर्जा देता है। दावा किया कि हरीश रावत समाज के कमजोर तबकों के लिए कल्याणकारी योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए प्रयासरत थे।

भाजपा हमेशा से रही गोर्खालियों की विरोधी : कार्की
गोरखाओं के चौमुखी विकास के लिए उनकी ओर से तमाम योजनाएं बनाई गईं। गोरखा कल्याण परिषद का गठन किया गया। धीरे-धीरे समाज की बेहतरी के लिए काम हो रहे थे। लेकिन नौ बागियों और भाजपा ने प्रदेश के हितों, जनता के साथ छल किया है। भाजपा व बागियों को बेनकाब किया जाएगा। भाजपा हमेशा से गोर्खालियों की विरोधी रही है। इस बात को आम गोरखा तक पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि साल 2017 के विधानसभा चुनाव में हरीश रावत के नेतृत्व में कांग्रेस को कम से कम 55 सीटें हासिल होंगी। इस मौके पर आरवी तमांग, शुभम कुमार वर्मा, एमएस थापा, किरण थापा, जयदीप थापा उपस्थित थे।

Powered by Blogger.