Header Ads

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ने की हर्क बहादुर द्वारा अपने उम्मीदवार सरिता राई को लेकर बयान की भ‌र्त्सना


कालिम्पोंग : गोजमुमो ने जाप अध्यक्ष डॉ. हर्क बहादुर छेत्री के खिलाफ एक बार फिर मोर्चा खोल दिया है। इस बार आधार बना है मोर्चा उम्मीदवार सरिता राई को लेकर निवर्तमान विधायक द्वारा दिया गया बयान। मोर्चा उम्मीदवार को कुशल गृहिणी व शिक्षक बताते हुए राजनीतिक दक्षता पर सवाल उठाने व राई की बजाय मोर्चा से प्रतिद्वंदिता संबंधी बयान की मोर्चा महकमा समिति व गोजयुमो महकमा समिति ने कड़ी भ‌र्त्सना की है। रविवार को पत्रकारों से बात करते हुए महकमा समिति के सचिव कुमार चामलिंग ने कहा कि जाप अध्यक्ष को शायद नहीं पता कि सरिता अपने परिवार में राजनीति सीख कर आई है। उनके पति स्व. उदय राई जिला परिषद के सदस्य भी रहे थे। उन्होंने कहा कि सरिता की राजनीतिक दक्षता को देखते हुए ही मोर्चा जैसे दल ने टिकट दिया। वो कमजोर नहीं, योग्य उम्मीदवार हैं। चामलिंग ने कहा कि अभी तक चुनाव जीतकर गए विधायकों रेणुलिना सुब्बा, एनटी मोक्तान आदि ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में अपनी छाप छोड़ी। इनमें से किसी ने भी कभी भी जाति को बेचने का कार्य नहीं किया।

जातीय अस्मिता को पश्चिम बंगाल सरकार के चरणों में नहीं रखा। वहीं, गोजयुमो महकमा समिति के सचिव विनय घीसिंग ने कहा कि डॉ. छेत्री के बयान से सभी गृहणियों एवं शिक्षकों का अनादर हुआ है। इसकी हम कड़ी निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि डॉ. छेत्री अगर किसी को सम्मान नहीं दे सकते, तो उनको नेतृत्व करने का भी अधिकार नहीं है। युवा मोर्चा अध्यक्ष बारूद थापा ने जाप अध्यक्ष की आलोचना करते हुए कहा कि वे मोर्चा के कारण ही विधायक बने थे। पहले तो वे चुनाव से पूर्व कालिम्पोंग जिले के अस्तित्व में आने का दावा करते रहे, और अब स्वयं के विधायक बनने पर ही जिले के अस्तित्व में आने अन्यथा नहीं का दुष्प्रचार कर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि राज्य सरकार ने डॉ. छेत्री को पसंद कर जिला दिया है, तो यह संपूर्ण पहाड़वासियों को पसंद नहीं है। गोजयुमो अध्यक्ष ने कहा कि कास्यांग के जाप संयोजक आर गुरुंग समेत पांच समर्थकों ने मोर्चा की सदस्यता ग्रहण कर ली है। गौरतलब है कि डॉ. छेत्री ने मोर्चा को योग्य उम्मीदवार देने में विफल बताते हुए कहा था कि सरिता राई कुशल गृहणी एवं शिक्षक हैं, परंतु राजनीति बिल्कुल भिन्न होती है।

- जागरण  
Powered by Blogger.