Header Ads

दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र में अब गुरुंग समुदाय को भी चाहिए अपना विकास बोर्ड


कालिम्पोंग : एक तरफ जहां जीटीए प्रमुख विकास बोर्ड के गठन को जातीय विभाजन की कोशिश बता आलोचना करने में नहीं चूक रहे। वहीं दूसरी तरफ उनकी अपनी जाति गुरुंग को भी अब विकास बोर्ड चाहिए। गुरुंग संगठन के अर्पण गुरुंग ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात कर गुरुंग विकास बोर्ड का गठन करने की मांग को लेकर ज्ञापन देने के बाद से संगठन निरंतर इसके लिए कार्य कर रहा है। उन्होंने सरकार की ओर से सकारात्मक आश्वासन मिलने का दावा करते हुए जाति के लोगों से एकजुट होने की अपील की।

Powered by Blogger.