Header Ads

हर्क बहादुर की नई पार्टी पर बोले बिमल गुरुंग - 'गोरखा जाति को खाई में धकेलने वालों से रहें सावधान'


दार्जिलिंग : कुछ नेता गोरखा जाति को खाई में धकेलने का षड़यंत्र कर रहे हैं। पर्वतीय क्षेत्र के निवासी एवं गोरखा ऐसे षड़यंत्रकारी नेताओं से सावधान रहें। उक्त उद्गार कालिम्पोंग के क्षेत्रीय विधायक हर्क बहादुर छेत्री के नए राजनीतिक पार्टी की घोषणा के बाद जीटीए प्रमुख एवं गोजमुमो सुप्रीमो विमल गुरुंग ने व्यक्त किए। वे पातलेबास स्थित कार्यालय पर बड़ी तादाद में मोर्चा का दामन थामने वाले गोरामुमो समर्थकों को पार्टी का झंडा सौंपने के बाद संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पहाड़ हंस नहीं, रो रहा है। जाति की अस्मिता के लिए मुझे मुख्यमंत्री से आमना-सामना भी करना पड़े, तो पीछे नहीं हटने वाला। 

विमल ने कहा कि वह व्यक्ति हूं, जो आंधी-तूफान आने पर भी जाति के हित को डटा रहे। ट्वॉयलेट एवं मकान के लिए बिकने वालों से लोगों को सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि जाति के लिए बोलने का हक सभी को है, परंतु पश्चिम बंगाल सरकार से भीख मांगकर जाति की अस्मिता से खिलवाड़ ना करें। इससे पूर्व तकदाह समष्टि के रामपुरिया नामरिंग पुबुंग, रंगली रंगलीयट, तकदाह के गोरामुमो समर्थकों ने बड़ी संख्या में गोजमुमो का झंडा थाम लिया। कई अन्य दलों के नेताओं ने भी गोजमुमो का दामन थामा। इस दौरान जीटीए प्रमुख के साथ सभासद नर्बूजी लामा एवं प्रकाश गुरुंग भी उपस्थित थे।


Powered by Blogger.