Header Ads

मिरिक में खस जाति को अनुसूचित जनजाति श्रेणी में शामिल करने की मांग


मिरिक : खस भारतीय हितकारी सम्मेलन की केंद्रीय समिति ने जाति को अनुसूचित जनजाति की श्रेणी में शामिल करने की मांग की है। स्थानीय आले खेल मैदान में रविवार को हुए वार्षिक अधिवेशन के दौरान जनजाति का मुद्दा छाया रहा। लगभग प्रत्येक वक्ता ने जाति की परंपरा, संस्कृति आदि की चर्चा करते हुए इसे जनजाति की श्रेणी में शामिल करने की आवश्यकता पर जोर दिया। समिति की केंद्रीय कार्यकारिणी के अध्यक्ष आरपी निरौला की अध्यक्षता में हुए अधिवेशन में खस जाति के कलाकारों ने विविध रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। इस दौरान सम्मेलन की स्मारिका का भी अतिथियों ने विमोचन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कर्सियांग के पूर्व विधायक डॉ. रोहित शर्मा, जीटीए के कार्यकारी सभासद एवं मोर्चा महासचिव रोशन गिरी, सभासद अनित थापा, सतीश पोखरेल, अरुण सिंग्ची एवं प्रभा छेत्री आदि उपस्थित रहे। संचालन मनोज खड्का ने किया।

Powered by Blogger.