Header Ads

भोटेभीर के करीब राष्ट्रीय राजमार्ग-10 में खिसका पहाड़, एक की मौत पांच घायल


कालिम्पोंग : माघे संक्रांति के उल्लास में डूबे पहाड़ के लिए गुरुवार का दिन दु:खद खबर लेकर आया। ग्रेफ के द्वारा पहाड़ काटे जाने के दौरान कालिम्पोंग  के रंगपो के समीप भोटेभीर में पहाड़ का बड़ा हिस्सा खिसक गया। राष्ट्रीय राजमार्ग-10 से गुजर रहे चार वाहन एवं ग्रेफ की जेसीबी बोल्डर के नीचे दब गई। इस घटना में एक की मौत हो गई। जबकि पांच घायल हो गए। मृतक एवं सभी घायलों को वाहनों से गैस कटर का सहारा लेकर निकाल लिया गया है। घायलों को उपचार के लिए सिक्किम के रंगपो एवं मल्ली अस्पताल पहुंचाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीरावस्था को देखते हुए 32 वर्षीय लाक्पा भूटिया को मणिपाल सेंट्रल रेफरल अस्पताल रेफर कर दिया। जानकारी के अनुसार भोटेभीर में राजमार्ग के किनारे पहाड़ काटने का कार्य ग्रेफ द्वारा कराया जा रहा था। सुबह पांच बजे अचानक पहाड़ का लगभग 50 मीटर चौड़ा एवं 10 मीटर बड़ा हिस्सा खिसक गया। इस दौरान वहां से गुजर रहे चार वाहन मलबे की चपेट में आ गए। 

जिनमें तीन ट्रक एवं एक टाटा सफारी है। इसके अलावा ग्रेफ की एक अत्याधुनिक मशीन भी शामिल है। सिक्किम की ओर जा रहे ट्रक संख्या डब्लूबी 73 बी 8265 के चालक सिलीगुड़ी के बैकुंठपुर निवासी 32 वर्षीय मुकेश छेत्री की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही कालिम्पोंग थाने के रंगपो चेक पोस्ट से पुलिसकर्मी तत्काल मौके पर पहुंचे। गैस कटर के सहारे वाहन काटकर चालक का शव निकालने के साथ ही सवारी व अन्य वाहनों से भी पांच घायलों को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। शव को अंत्य परीक्षण के लिए कालिम्पोंग महकमा अस्पताल भिजवा दिया। जबकि घायल 10 वर्षीय बालिका छिरिंग तमांग को मल्ली खंड प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, कालिम्पोंग के बिरिक डाडा निवासी 32 वर्षीय संतोष छेत्री को रंगपो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। सिक्किम के नीमा व उनके परिजनों को उपचार के लिए गंगटोक भेज दिया गया है।


Powered by Blogger.