Header Ads

RKSP का निर्माण रोकने पर जीटीए प्रमुख गुरुंग ने जताई नाराजगी

दार्जिलिंग : जीटीए द्वारा मॉडल स्कूल के तौर पर विकास को चयनित रामकृष्ण शिक्षा परिषद उच्चतर स्कूल का निर्माण पर पुलिस-प्रशासन द्वारा रोकने पर जीटीए प्रमुख विमल गुरुंग ने भी नाराजगी व्यक्त की है। वहीं गोजविमो ने भी जिला प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। गोजविमो ने नपा एक्ट के तहत निर्मित हो रहे भवन का निर्माण रोकने के लिए नगर केविभिन्न स्थानों पर पोस्टर चस्पा कर प्रशासन की आलोचना की है। साथ ही आंदोलन की चेतावनी भी दी है। नई दिल्ली से विमल ने कहा कि आरकेएसपी स्कूल में चाय बागान, जंगल बस्ती के विद्यार्थी स्वाभिमान से अध्ययन कर सकें। इसलिए जीटीए के शिक्षा विभाग ने दूसरे भवन में संचालित हो रहे उक्त विद्यालय का भवन निर्माण शुरू कराया। ताकि गरीब विद्यार्थियों के स्वाभिमान को भी ठेस न पहुंचे। 

उन्होंने कहा कि स्कूल के रास्ते गुजरते समय कंचनजंघा एवं हिमालय का मनोरम दृश्य देखने के उद्देश्य से एक वीआइपी ने उक्त निर्माण रुकवाया। जिसे कहीं से भी न्यायोचित नहीं ठहराया जा सकता। जीटीए प्रमुख ने आरोप लगाया कि प्रशासन ने न केवल विद्यालय के निर्माण, बल्कि दागोपाप के समय बनी बहुमंजिली इमारतों पर कार्रवाई में भी अडंगा लगाया। कालिम्पोंग प्रतिनिधि के अनुसार गोजविमो ने नगर के डम्बर चौक एवं विभिन्न स्थानों पर पोस्टर चस्पा कर जिला प्रशासन पर विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है। पोस्टर में उल्लेख किया गया है कि एक मात्र मॉडल स्कूल का निर्माण रोकने पर विद्यार्थी सड़क पर उतर आंदोलन को बाध्य होंगे। क्षेत्र के विद्यार्थियों में भी प्रशासन के इस कदम के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है।

Powered by Blogger.