Header Ads

गजेंद्र चौहान के विरोध में भूख हड़ताल: FTII के अनशनरत छात्र अस्पताल में भर्ती

पुणे : एफटीआईआई में बृहस्पतिवार से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल कर रहे तीन छात्रों में से एक छात्र को उसके ब्लड सुगर में गिरावट आने की वजह से अस्पताल में भर्ती करया गया है। अभिनेता गजेन्द्र चौहान की एफटीआईआई के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति का विरोध कर रहे छात्र बृहस्पतिवार से भूख हड़ताल कर रहे हैं। एफटीआईआई छात्र संघ (एफएसए) द्वारा जारी एक बयान में बताया गया है कि संस्थान के चिकित्सा अधिकारी ने हिलाल सवाद के स्वास्थ्य की जांच में पाया कि उसके ब्लड सुगर का स्तर कम हो गया है। इसके बाद हिलाल को अस्पताल ले जाया गया। एफएसए ने बताया कि हिलाल ओ अस्पताल ले जाने के बाद उसकी जगह एक अन्य छात्र अंकित थापा आंदोलन को जारी रखने के लिए भूख हड़ताल पर बैठ गया। 

एफटीआईआई के अध्यक्ष पद पर अभिनेता गजेन्द्र चौहान की नियुक्ति के विरोध में छात्रों के आंदोलन का आज 94वां दिन है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय हड़ताल पर मौन साधे हुए है। संस्थान के निदेशक प्रशांत पथराबे ने बताया कि मंत्रालय के अधिकारियों को छात्रों की भूख हड़ताल के बारे में सूचना दे दी गई है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर उन्हें कुछ नहीं बताया गया है। एफएसए के अध्यक्ष हरिशंकर नचिमुथु ने बताया, हमें मंत्रालय की प्रतिक्रिया का इंतजार है जिससे वर्तमान संकट के हल का रास्ता मिल सकता है। लेकिन अब तक हमें कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। पूर्व में एफटीआईआई में ठेके पर नियुक्त एक संकाय सदस्य अभिजीत दास ने चौहान की नियुक्ति को लेकर जारी गतिरोध के हल की मांग को लेकर अनशन किया था। लेकिन 66 घंटे के बाद स्वास्थ्य संबंधी कारणों से उन्होंने 8 सितंबर को अनशन खत्म कर दिया। छात्रों की हड़ताल के कारण संस्थान में जून से अकादमिक गतिविधियां बंद पड़ी हैं।
Powered by Blogger.