Header Ads

पाक बोला बातचीत के लिए कोई शर्त मंजूर नहीं, हुर्रियत से भी मिलते रहेंगे

इस्लामाबाद : पाकिस्तान को भारत के साथ बातचीत के लिए पहले से कोई शर्त मंजूर नहीं है। पाकिस्तान के नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर सरताज अजीत ने न्यूयॉर्क में इसी महीने होने वाली यूएन जनरल एसेम्बली मीटिंग से ठीक पहले यह बयान दिया है। न्यूयॉर्क में पीएम नरेंद्र मोदी और पाक पीएम नवाज शरीफ की मुलाकात की उम्मीद जताई जा रही है। अजीज ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे के बिना किसी तरह की बातचीत में शामिल नहीं होगा। अजीज ने कहा कि पाकिस्तान हुर्रियत नेताओं से मिलना जारी रखेगा।


क्या कहा अजीज ने
अजीज ने एक अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि भारत सिर्फ आतंकवाद पर बातचीत चाहता है, जबकि हम कश्मीर समेत सभी मुद्दों पर बात करना चाहते हैं। दोनों लीडर्स के बीच मुलाकात के सवाल पर उन्होंने कहा, ''हमने अपना रुख साफ कर दिया है। भारत ने पिछले महीने एनएसए लेवल की बातचीत को रद्द किया था। अब बैठक के लिए न्योता भी भारत की ओर से ही आना चाहिए। भारत को पहल करने की जरूरत है।

नहीं मिला कोई न्योता
अजीज ने कहा, ''हुर्रियत नेताओं से हमारा मुलाकात का सिलसिला जारी रहेगा।'' उन्होंने ये भी साफ किया कि उन्हें यूएन मीटिंग के अलावा नई दिल्ली से बातचीत का कोई न्योता नहीं मिला है। माना जा रहा है कि अमेरिका में मोदी और नवाज एक ही होटल में रुक सकते हैं। लेकिन अफसरों की ओर से अब तक इनके बीच किसी भी तरह की मुलाकात जिक्र नहीं किया है।

भारत-पाक वार्ता दो बार हुई रद्द
भारत-पाकिस्तान के बीच पिछले महीने 24 तारीख को होने वाली एनएसए लेवल की बातचीत उस वक्त रद्द हो गई थी, जब पाकिस्तानी हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने कश्मीरी अलगाववादियों को बातचीत के लिए न्योता भेज दिया था। ये दूसरा मौका था जब भारत-पाकिस्तान के बीच बातचीत की प्रक्रिया पर ब्रेक लगा था। इससे पहले पिछले साल अगस्त में बासित के हुर्रियत नेताओं के साथ मुलाकात को लेकर भारत ने दोनों देशों के बीच होने वाली विदेश सचिवों की मुलाकात को रद्द कर दिया था।

Powered by Blogger.