Header Ads

32 साल पहले 14 की उम्र में शिवा ने किया था 'ई-मेल' का आविष्कार


हमारी ज़िंदगी को कतई आसान बनाने वाले 'ई-मेल' ने हाल ही में अपने जन्म के 32 साल पूरे कर लिए. लेकिन हममें से कितनों को पता है कि भारतीय मूल के अमेरिकी वैज्ञानिक वीए शिवा अय्यादुरई ने महज 14 साल की उम्र में इसका आविष्कार किया था. उनका जन्म मुंबई के एक तमिल परिवार में हुआ था. जब वे सात साल के थे तब उनका परिवार अमेरिका शिफ्ट हो गया. वहीं उन्होंने 1978 में 14 साल की उम्र में ई-मेल का आविष्कार किया. उनके इस आविष्कार में इनबॉक्स, ऑउटबॉक्स, फोल्डर, मेमो, अटैचमेंट, एड्रेस बुक जैसे तमाम फीचर्स शामिल थे जो आज के दौर में किसी भी मेल सर्विस के महत्वपूर्ण हिस्से हैं. अमेरिका के New Jersey में Livingston High School में पढ़ाई करते हुए उन्होंने इसपर काम चालू किया. उन्होंने 50,000 लाइन्स की कोड के सहारे एक कंप्युटर प्रोग्राम बनाया जिससे पहले-पहल मेल भेजा जा सका.  30 अगस्त 1982 को अमेरिकी सरकार ने अय्यादुरई को आधिकारिक तौर पर मेल ता आविष्कारक घोषित किया. इसका कॉपीराइट भी उन्हीं के पास है. फिर भी इस दिग्गज का नाम माडर्न कंप्युटर साइंस में कहीं नहीं है. चाहे मेल के आविष्कार पर कोई भी हक जताता रहे, अय्यादपरई ही इसके असली जनक रहेंगे. उम्मीद है कि कंप्युटर इतहास में उन्हें उनकी जगह मिले.

Powered by Blogger.