Header Ads

भूकंप से नेपाल में 57 लोगों की मौत, बिहार में करीब 25 लोगों की मौत

नई दिल्ली।  पूरे उत्तर भारत को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप की वजह से अब तक मिली जानकारी के अनुसार पूरे देश में करीब 30 लोगों की मौत हो गई है। बिहार में सर्वाधिक 25 लोगों ने भूकंप के कारण अपनी जान गंवा दी है। वहीं, भूकंप की त्रासदी से उबरने में लगे नेपाल में आज आए भूकंप से 57 लोगों के मरने की खबर है। भूकंप का केंद्र नेपाल-चीन सीमा पर था। भूकंप की तीव्रता 7.4 बताई जा रही है। भूकंप के कारण पटना में दीवार गिरने से एक शख्स की मौत हो गई है जबकि यूपी के कुशीनगर में भी एक महिला की मौत की खबर है।  बताया जा रहा है कि नेपाल के चौतारा इलाके में चार लोगों की मौत हो गई है। कई इमारतों के गिरने की भी खबर है। मुरादाबाद, मेरठ, अलीगढ़, कानपुर, इलाहाबाद, बरेली आदि जगहों पर भी तेज झटके महसूस किए गए। बिहार संवाददाताओं के मुताबिक भूकंप के झटके सहरसा, मधेपुरा, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मुफ्फरपुर आदि जगहों पर काफी तेज महसूस किए गए और तुरंत ही लोगों में दहशत फैल गई। खबर के मुताबिक भूकंप का एपीसेंटर जमीन से 18 किलोमीटर नीचे था। लोग घरों से बाहर निकल गए और पार्क आदि में पहुंच गए।

उत्तर प्रदेश का हाल
उत्तर प्रदेश में आए भूकम्प के झटकों से अफरातफरी मच गयी और दहशत में लोग घरों से बाहर निकल आये। वाराणसी, गोरखपुर, फैजाबाद, हरदोई, भदोही, उन्नाव, कानपुर,  बस्ती, अमरोहा, समेत सूबे के सभी जिलों में भूकम्प के झटके महसूस किये गये। इससे पहले गत 25 और 26 अप्रैल को उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में जबरदस्त भूकम्प आया था जिससे 17 लोगों की मृत्यु हुई थी और 50 से अधिक घायल हुए थे।

बिहार का हाल
बिहार में भी भूकम्प के तेज झटके महसूस किये गये। पहला झटका दोपहर 12.37 मिनट पर महसूस किया गया। यह झटका काफी तेज था और तकरीबन एक मिनट से अधिक समय तक रहा। इसके 30 मिनट बाद फिर दूसरा झटका महसूस किया गया। यह अपेक्षाकृत धीमा और कम देर तक रहा। झटका लगते ही ऑफिस और घरों से लोग बाहर निकल कर सड़क पर आ गये। अस्पतालों से तीमारदार अपने मरीजों को लेकर बाहर निकलने लग गए। स्टेशन पर भी भगदड़ मच गयी। ऑफिस तुरंत खाली हो गए।

एनसीआर का हाल
राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में आज दोपहर बाद 12 बजकर 35 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग अपने घरों और कार्यालयों से बाहर निकल आए।
Powered by Blogger.