Header Ads

मरने से पहले गिनेस बुक में दर्ज हो गया दो मुंह और तीन आंख वाला बिल्ला

वोरकेस्टर। दो मुंह, दो नाक और तीन नीली आंखों वाले बिल्ले- फ्रैंकनलुई की 15 साल तक जिंदा रहने के बाद मौत हो गई। इस बिल्ले के महज कुछ दिन ही जिंदा रहने की उम्मीद जताई गई थी लेकिन 15 साल जिंदा रहकर इसने गिनेस बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा लिया। अमेरिका के वोरकेस्टर शहर में रहने वाले बिल्ले की मौत टफ्ट्स यूनिवर्सिटी के कमिंग्स स्कूल ऑफ वेटेरिनरी मेडिसिन विभाग में गुरुवार को हुई। बिल्ले की मालकिन मार्टी स्टीवन्स ने बताया कि डॉक्टरों को बिल्ले के कैंसर से मरने की आशंका है। मार्टी अपने बिल्ले के बाएं मुंह को फ्रैंक और दाएं मुंह को लुई नाम से बुलाती थीं। दुनिया में कोई भी दो मुंह वाली बिल्ली इतने लंबे समय तक जिंदा नहीं रह सकी है। दो मुंह वाली बिल्लियों को दो मुंह वाले रोमन देवता 'जानूस' के नाम पर जानूस बिल्ली भी कहा जाता है।

 इन बिल्लियों के लंबे समय तक जिंदा रहने की उम्मीदें बहुत कम होती हैं। मार्टी को यह बिल्ला 1999 में एक वेटेरिनरी नर्स ने लाकर दिया था। शुरू में वह फ्रैंकननुई को उसके दोनों मुंह में ट्यूब डालकर खाना देती थीं लेकिन जल्द ही उन्हें पता चला कि उसका बायां मुंह- फ्रैंक ही खाने की नली से जुड़ा हुआ था। फ्रैंकनलुई की तीन में से बीच वाली आंख काम नहीं करती थी लेकिन वह बाकी दोनों आंखों से बखूबी देख सकता था। इस बिल्ले के दो मुंह और दो नाक थे लेकिन दिमाग एक ही था। बिल्ले के थैंक्सगिंविंग के मौके पर बीमार पड़ने मार्टी उसे डॉक्टरों के पास ले गईं जहां उन्हें बताया गया कि उनका बिल्ला बहुत दर्द में है और उसे मौत की नींद सुला देना ही उसके लिए बेहतर होगा। मार्टी ने कहा है कि फिलहाल तो वह अपने प्यारे बिल्ले की मौत से उबरने की कोशिश कर रही हैं। ऐसा होने पर वह जरूर दूसरी बार 'जानूस बिल्ली' को पालना चाहेंगी। 




Powered by Blogger.