Header Ads

गोवा में 45वां अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल, एक मंच पर दिखेंगे अमिताभ और रजनीकांत

गोवा : गोवा में 45वां अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल शुरू हो रहा है जो 30 नवंबर तक चलेगा। उद्घाटन समारोह बैंबोलिम के श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में होगा। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और उनकी पत्नी जया बच्चन उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि होंगे। 45वां भारत अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव (आईएफएफआई) का आज से गोवा में संगीत और नृत्‍य के भव्‍य रंगारंग कार्यक्रम के साथ शुभारंभ होगा। 20 से 30 नवंबर, 2014 तक होने वाले इस 11 दिवसीय फिल्‍म महोत्‍सव से विभिन्‍न देशों की फिल्‍म कला की गुणवत्‍ता को प्रदर्शित करने, सामाजिक और सांस्‍कृतिक प्रकृति से संबद्ध फिल्‍म संस्‍कृति की सराहना और समझ में योगदान और विश्‍व के लोगों के बीच दोस्‍ती और सहयोग को बढ़ाने में दुनिया के चलचित्रण के लिए एक मंच उपलब्‍ध होगा। नवंबर 2004 में गोवा में शुरू किए गए 35वें भारत अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव के बाद से 2014 में होने वाला यह फिल्‍मोत्‍सव राज्‍य में लगातार 11वीं बार हो रहा है।

अमिताभ बच्‍चन और उनकी पत्‍नी जया बच्‍चन शुभारंभ समारोह के मुख्‍य अतिथि होंगे जबकि जिऑन सू-इल (दक्षिण कोरिया) मोहसेन मखमलबफ (ईरान) और पोलैंड के फिल्‍म निर्माता क्रीजटोफ जानूसी सम्‍माननीय अतिथि होंगे। कार्यक्रम का संचालन अभिनेता अनुपम खेर और अभिनेत्री रवीना टंडन करेंगे। शेखर कपूर, सतीश कौशिक और रूपा गांगुली सहित अन्‍य मशहूर हस्तियां कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगी। रजनीकांत की इस वर्ष का भारतीय फिल्‍म हस्‍ती के लिए शताब्‍दी पुरस्‍कार प्रदान किया जाएगा। यह पुरस्‍कार पिछले वर्ष भारतीय सिनेमा के सौ वर्ष पूरे होने पर शुरू किया गया था। चीन के फिल्‍म निर्माता वोंग कार वाई को ‘’लाइफटाइम अचीवमेंट’’ पुरस्‍कार प्रदान किया जाएगा। महोत्‍सव की पहली फिल्‍म मोहसेन मखमलबफ (ईरान) द्वारा निर्देशित ‘’द प्रेसिडेंट’’ होगी, जबकि महोत्‍सव के समापन पर वोंग कार वाई (चीन) की ‘’द ग्रैंडमास्‍टर’’ प्रदर्शित की जाएगी।

 इस बार महोत्‍सव में चीन फोकस देश है। आईएफएफआई 2014 में 79 देशों की विभिन्‍न श्रेणियों की 178 फिल्‍में प्रदर्शित की जाएंगी जिनमें विश्‍व सिनेमा (61 फिल्‍में), मास्‍टर स्‍ट्रोक्‍स (11 फिल्‍में), महोत्‍सव बहुरूपदर्शक (फेस्टिवल केलिडोस्‍कोप)  (20 फिल्में), सोल ऑफ एशिया (07 फिल्‍में), डाक्‍यूमेंट्री (06 फिल्‍में), एनीमेटेड फिल्‍में (06 फिल्‍में) शामिल हैं। इसके अलावा भारतीय पैनोरमा वर्ग की 26 फीचर और 15 गैर फीचर फिल्‍में होगीं। पूर्वोत्‍तर महोत्‍सव का फोकस क्षेत्र है इसलिए आईएफएफआई 2014 में भारत के पूर्वोत्‍तर क्षेत्र की 07 फिल्‍में प्रदर्शित की जाएंगी। क्षेत्रीय सिनेमा भी महोत्‍सव का महत्‍वपूर्ण अंग होगा। इस वर्ष के समारोह में गुलजार और जानू बरूआ पर पुनरावलोकन वर्ग (रिट्रोस्‍पेक्टिव सेक्‍शंस), रिचर्ड एटनबरो, रॉबिन विलियम्‍स, ज़ोहरा सहगल, सुचित्रा सेन पर विशेष समर्पित फिल्‍में और फारूख शेख को विशेष श्रद्धाजंलि अन्‍य आकर्षण होंगे। 

नृत्‍य पर केंद्रित फिल्‍मों का एक विशेष वर्ग होगा तथा व्‍यक्तित्‍व आधारित पुनरावलोकन (रिट्रोस्‍पेक्टिव) और मास्‍टर क्‍लासेज/कार्यशालाएं भी आईएफएफआई 2014 का हिस्‍सा होंगे। आम लोगों के लिए ‘पहले आओ, पहले पाओ’ के आधार पर मुफ्त में भारतीय फिल्‍मसात कैम्‍पेल फुटबॉल ग्राउंड पर ओपन एयर स्‍क्रीनिंग नया आकर्षण है। 21 नवंबर, 2014 को शाम साढ़े सात बजे ‘’गांधी’’ फिल्‍म से प्रदर्शन शुरू होगा और 27 नवंबर, 2014  तक उसी स्‍थान पर उसी समय प्रतिदिन एक भारतीय फिल्‍म दिखाई जाएगी। फिल्‍मों के प्रथम प्रदर्शन के अलावा आईएफएफआई 2014 के दौरान प्रतिनिधियों के लिए फिल्‍म का बाजार, थ्री डी फिल्‍में, भोज, मास्‍टर क्‍लासेज, स्‍टॉल्‍स और ओपन एयर स्‍क्रीनिंग जैसी रंगपटल की गतिविधियां होंगी।   

Powered by Blogger.