Header Ads

देहरादून के सेना भर्ती रैली में गोरखा युवाओं ने किया निराश

देहरादून। राजधानी के घंघोड़ा गढ़ी कैंट में सेना भर्ती रैली के आखिरी दिन देहरादून व हरिद्वार जिलों के गोरखा युवाओं में भी दमखम का अभाव दिखा. जैसी उम्मीद थी, उसके मुताबिक युवा शारीरिक तौर पर फिट नजर नहीं आए. सेना भर्ती के लास्ट डे दो जिलों दून व हरिद्वार के 7063 युवा ट्रैक पर दौड़े, बदले में केवल 339 युवा ही सलेक्ट हो पाए. महज 20 परसेंट युवाओं का दो जिलों से सलेक्शन हो पाना, आर्मी के अधिकारियों को भी समझ में नहीं आ रहा है. इसमें भी अभी मेडिकल होना बाकी है. इसके बाद सेना में कितने युवा ज्वॉइनिंग दे पाएंगे, अधिकारी फिलहाल कुछ बता पाने में सक्षम नहीं दिख रहे हैं.

गोरखा समुदाय के युवा निकले बेदम
बुधवार को संपन्न हुई सेना भर्ती रैली में गोरखा समुदाय के युवाओं में भी फिजिकल फिटनेस का बेहद अभाव देखा गया. इस बात को खुद सेना के अधिकारियों ने बताया. बताया गया कि ट्रैक पर दौड़े 7063 युवाओं में 339 युवा सलेक्ट हुए. इनमें गोरखा रेजिमेंट के लिए 835 दौड़े और केवल 64 का ही चयन हो पाया. अधिकारियों की माने तो महज 64 सलेक्ट हुए गोरखा समुदाय के युवाओं को सलेक्ट करने में अधिकारियों के पसीने छूट गए. कई बार अधिकारियों सलेक्शन के लिए एग्जामिन करना पड़ा.

सलेक्ट होने वाले मार्च में लेंगे ज्वॉइनिंग
पांच दिनों तक चली सेना भर्ती रैली अब समाप्त हो चुकी है. इस भर्ती में जिनका सलेक्शन होगा, उन्हें मार्च पहले तक ज्वॉइनिंग मिल जाएगी.

- INEXT

Powered by Blogger.