Header Ads

नेपाल में बाढ-भूस्खलन में 240 की मौत, भारत देगा 4.8 करोड रूपये की सहायता

कमल प्रसाद घिमिरे
काठमांडो।
भारत ने नेपाल के विभिन्न हिस्सों में बाढ और भूस्खलन के पीडितों के लिए आज 4.8 करोड नेपाली रपयों की राहत राशि की घोषणा की । पिछले दो हफ्तों में करीब 240 लोगों की जान बाढ एवं भूस्खलन के चलते जा चुकी है। भारत का 68वां स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाने के लिए यहां पर भारत नेपाल मैत्री सोसाइटी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में राजदूत रंजीत राय ने कहा,  भारत सरकार, नेपाल में हाल की बाढ और भूस्खलन के पीडितों के लिए तीन करोड रपये (4.8 करोड नेपाली रपये) मुहैया कराएगी।  

उन्होंने कहा कि आपदा राहत के लिये आपात स्थिति में इस्तेमाल करने के लिए भारत ने नेपाल सरकार के आग्रह पर तीन हेलीकॉप्टर और एक विमान को सीमा पर तैयार रखा है ।  मध्य और पश्चिम नेपाल में भारी बारिश की वजह से बाढ और भूस्खलन के कारण पिछले दो हफ्तों में 240 लोगों की मौत हुई है।  गृह मंत्रालय के प्रवक्ता शंकर कोइराला ने बताया कि भारी बारिश की वजह से आई बाढ और भूस्खलन में पिछले तीन दिनों में मरने वालों की संख्या 85 तक पहुंच गई है।  देश के विभिन्न हिस्सों में 46 लोग जख्मी हुए हैं और 113 अभी भी लापता है। सप्ताह के अंत मे बाढ और भूस्खलन से 30 जिले प्रभावित हुए।

कोइराला ने कहा कि सप्ताहांत में सरकार ने बांके और बर्दिया जिलों से 12,000 लोगों को हटाया है। उन्होंने कहा कि नेपाली सेना और पुलिसकर्मियों की मदद से आज 11 घायलों सहित 15 लोगों को जाजरकोट जिले से बचाया गया ।  सुरखेत के बीरेंद्रनगर नगरपालिका इलाके में 25 घर बह गए।  गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा,  अगर हमें मदद की जरूरत होगी तो हम भारत सरकार से मदद मांगेगे।









Powered by Blogger.