Header Ads

दबंगई की प्रतीक रही एम्बेसडर ने कहा गुडबॉय, उत्पादन बंद करने का फैसला

नई दिल्ली : आजाद भारत में सत्ता, अधिकार और दबंगई की प्रतीक रही एम्बेसडर कार का निर्माण आधिकारिक रूप से बंद होने के साथ देश में एक युग का अंत हो गया. आधी सदी से अधिक समय तक भारतीय सड़कों पर राज करने वाली हिन्द मोटर्स की सफेद एम्बेसडर कार को भारत सरकार का अधिकृत वाहन माना जाता रहा है. इसके साथ इस कार का रूतबा पुलिस और सेना में भी कायम रहा. पुलिस ने इसके सफेद रंग को अपनाया तो थलसेना ने इसके स्याह और वायुसेना ने आसमानी रंग को पसंद किया. राजनेताओं की यह पसंदीदा रही तो समाज के दबंग लोगों ने भी इसे अपना वाहन बनाया. करगिल से लेकर कन्याकुमारी तक और भुज से तवांग तक यह कार भारतीय समाज में 6 दशक तक पद और प्रतिष्ठा का प्रतीक बनी रही. भारत सरकार ने कई वर्ष अपने बेडे में एम्बेसडर कार की संख्या कम करने का फैसला किया तो इसके बुरे दिन शुरू हो गए. 

कारों के नए मॉडलों और तकनीक के कारण एम्बेसडर कार बाजार में ग्राहकों को नहीं लुभा पाई. सरकारी अधिकारियों और नेताओं के सुरक्षा मानकों पर यह कार विफल होने लगी. एम्बेसडर कार बनाने वाले हिंदुस्तान मोटर्स लिमिटेड के आर्थिक तंगी से जूझ रहे उत्तरपाडा संयंत्र को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया. पश्चिम बंगाल में हुगली जिले के उत्तरपाडा में देश का पहला और एकमात्र एकीकृत ऑटोमोबाइल संयंत्र हिंद मोटर पिछले कई वर्षो से आर्थिक तंगी का सामना कर रही है. देश में वर्ष 1942 में प्रथम स्वदेशी कार बनाने वाली यह कंपनी समय के साथ और ईधन की बढ़ती कीमत के अनुसार अपने संयंत्र और कार के मॉडलों को उन्नत नहीं बना पाई, जिससे इसे आर्थिक रूप से काफी नुकसान हुआ है और अंतत: इसे संयंत्र में काम रोकना पड़ा है.

उत्पादन घटने, अनुशासनहीनता बढ़ने, फंड की किल्लत और इसके महत्वपूर्ण वाहन एम्बेसडर की घटती मांग की वजह से यह फैसला लिया है. कार की बिक्री बेहद घट गई. एम्बेसडर कार का उत्पादन वर्ष 1958 में शुरू किया गया था. यह पहली कार थी जो भारत में और भारतीय जरूरतों के अनुरूप बनाई गई. अस्सी का दशक कार के लिए बेहरीन समय था, जब प्रतिवर्ष 24000 कार बेची जा रही थी. फिलहाल उत्तरपाडा संयंत्र में महज 5 कार प्रतिदिन बनाई जा रही थी. अस्सी के दशक में ही भारतीय कार बाजार में मारूति युजुकी, फोर्ड और हुंडई आदि कंपनियों ने प्रवेश किया और उपभोक्ताओं के सामने कई रंग और मॉडल पेश किए.

Powered by Blogger.