Header Ads

दार्जिलिंग में भाजपा व तृणमूल कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला

दार्जिलिंग । पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनावों के पहले दौर में आज 17 अप्रैल को जिन चार सीटों पर मतदान होना है वहां चुनाव प्रचार का शोर मंगलवार को थम गया था। इनमें दार्जिलिंग, अलीपुरदुआर, जलपाईगुड़ी और कूचबिहार सीटें शामिल हैं। इन चार सीटों के लिए कुल 47 उम्मीदवार मैदान में हैं और उनमें से नौ करोड़पति हैं। दार्जिलिंग के अलावा भाजपा किसी दूसरी सीट पर मुकाबले में ही नहीं है। बाकी तीन सीटों पर तृणमूल कांग्रेस और लेफ्ट फ्रंट में सीधी टक्कर हैं। वहां कांग्रेस ने मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है। 

दार्जिलिंग सीट पर तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया को मैदान में उतारा है, जबकि भाजपा ने गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के समर्थन से एसएस आहलूवालिया को अपना उम्मीदवार बनाया है। सीपीएम की ओर से यहां समन पाठक मैदान में हैं तो कांग्रेस ने भी यहां सुजय घटक को मैदान में उतारा है। लेकिन असली लड़ाई भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के ही बीच है। अब तक मोर्चा का समर्थन इस सीट पर जीत की गारंटी माना जाता था। लेकिन भूटिया ने आहलूवालिया की राह कुछ हद तक मुश्किल बना दी है। भूटिया के समर्थन में ममता कई रैलियां कर चुकी हैं। यहां जीते कोई, इलाके के लोगों को तो करोड़पति सांसद ही मिलेगा।

Powered by Blogger.