Header Ads

गोजमो सुप्रीमो बिमल गुरूंग ने फिर की गोरखालैंड को अलग राज्य बनाने की मांग

दार्जिलिंग : गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष बिमल गुरूंग ने आज फिर गोरखालैंड की मांग दोहराते हुए कहा कि देश में गोरखाओं की सुरक्षा और राष्ट्रीय पहचान के लिए यह आवश्यक है। गुरूंग ने यहां कहा कि दार्जिलिंग सीट पर भाजपा को समर्थन देने का फैसला गोरखाओं की सुरक्षा और राष्ट्रीय पहचान के लिए आवश्यकता का नतीजा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने शासनकाल में तीन नए राज्यों का गठन किया और तेलंगाना की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। उन्होंने कहा कि इस बात की संभावना है कि केंद्र में अगली सरकार भाजपा की बने और ऐसे में गोरखालैंड की संभावना उज्ज्वल है। गुरूंग ने भाजपा उम्मीदवार एस एस अहलूवालिया के पक्ष में मतदान करने की लोगों से अपील करते हुए कहा,  अगर मैं अवसरवादी होता तो तृणमूल कांग्रेस के साथ नजदीकियां बढा रहा होता। गोरखालैंड के रास्ते में आने वाली सभी बाधओं का सामना करने के लिए हम तैयार हैं।
Powered by Blogger.